Bhagwan Shri Dwadash Madhav Parikrama

Complete Parikrama & Get Blessings of Bhagwan Shri Hari  




                                            प्रकाशनार्थ

                    इस वर्ष द्वादश माधव परिक्रमा इस्कॉन मंदिर से

जब आप तीर्थराज प्रयाग के अधिष्ठाता भगवान् श्री द्वादश माधव की परिक्रमा करते हैं तो यह आपको परम पिता परमात्मा के चैतन्य से अभिसिक्त कर देती है! जिसके परिणाम स्वरुप आपके भीतर सकारात्मक ऊर्जा का स्तर बढ़ जाता है ! जिससे आप के भीतर असंतुलन की स्थिति समाप्त हो जाती है और आप सहज स्थिति को प्राप्त हो जाते हैं ! परिक्रमा करने से आपके भीतर स्थित दैवी शक्ति से सीधा संवाद होने लगता है ! दैवी शक्तियां सदैव सामूहिकता में कार्य करती हैं !परिक्रमा भी समूह में की जाती है ! अतः यह मनुष्य को आपस में जोड़ती है ! इस तथ्य को हमारे पूर्वज भली भांति जानते थे ! तभी उन्होंने परिक्रमा का विधान बनाया और उसे पल्लवित किया !यह विचार भगवान् श्री द्वादश माधव परिक्रमा तीर्थराज प्रयाग के पुनः स्थापनाकर्ता आध्यात्मिक गुरु परम पूज्य स्वामी श्री अशोक जी महाराज ने व्यक्त किये हैं !उन्होंने बताया की यह धरती की सबसे प्राचीन परिक्रमा है ! ६०० वर्ष पूर्व मुगलों द्वारा इसे खंडित कर दिया गया था ! गत वर्ष की भांति इस वर्ष की वार्षिक परिक्रमा 25 नवम्बर 2016 को इस्कॉन मंदिर बलुआघाट इलाहाबाद से प्रातः 9 बजे उठेगी! 5 दिन में बारह पीठों की परिक्रमा कर 29 नवम्बर 2016 को सायं 4 बजे इसका समापन होगा! बाहर से आने वाले भक्तों के लिए इस्कॉन मंदिर में आवास भोजन/ प्रसाद की व्यवस्था की गई है! प्रयागवासियों को चाहिए कि भगवान् श्री हरि कि इस अति प्राचीन परिक्रमा में अधिक से अधिक संख्या में भाग लें और कृपा प्राप्त करें!जो भक्त किन्ही कारणों से भाग नहीं ले पा रहे हैं! उन्हें चाहिए कि वे परिक्रमावासियों का मार्ग में दर्शन कर पुण्य के भागी बने! साधू संतों श्रद्धालुओं कि जानकारी एवं सहायता हेतु 1-बाला जी मंदिर दारागंज 2-धकाधक चौराहा दारागंज 3-इस्कॉन मंदिर बलुआघाट में केंद्र खोल दिए गई हैं! यहाँ से कोई भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है और अपना नाम लिखवाया जा सकता है! हेल्पलाइन 9452095265 पर भी संपर्क किया जा सकता है!

जारीकर्ता -तीर्थराज पाण्डेय

सदस्य प्रबंध श्री द्वादश माधव परिक्रमा , तीर्थराज प्रयाग! संपर्क 9452095265

For more info visit us at http://dwadashmadhavparikrama.cfsites.org

Follow us@http://facebook.com/dwadashmadhavparikrama and like us@http://twitter.com/madhavparikrama